How to approach the bank for business loan

अपने Business को setup करने उसे सफलतापूर्वक चलाने expansion और diversify करना, हर स्टेज में हमें बैंक से अपने Business के लिए loan की जरुरत होती है, existing एवं पुराने business को फाइनेंस करवाने के बहुत से रास्ते खुले है साथ ही इसके लिए बैंक से loan लेना भी काफी आसान होता है, लेकिन जब हम कोई नया business setup करने जा रहे है और साथ ही अगर वो हमारा पहला business हो तो ऐसे में अपने प्रोजेक्ट को बैंक से फाइनेंस करवाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है क्यूंकि हमारे पास अपने business का past का कोई भी फाइनेंसियल डाटा नहीं होता, कोई क्रेडिट रेटिंग नहीं होता जिसके आधार पर बैंक सामान्यतः business loan देते है.

हर नए Entrepreneurs के पास idea होता है, जिसके आधार पर वो अपना business स्टार्ट करने का सपना देख रहा होता है, लेकिन उसकी सफलता इस बात पर निर्भर करती है की वो अपने business के लिए पैसा जुटाने में कामयाब हो पाता है या नहीं और अधिकत्तर ideas और अपना business स्टार्ट करने का कोशिश सिर्फ इस कारण से फ़ैल हो जाते है की उन्हें इसके लिए loan ही नहीं मिल पाता है साथ ही कई लोग तो इसलिए अपना business प्लान ही  नहीं करते क्यूंकि उन्हें लगता है की business स्टार्ट करने के लिए बहुत पैसा का जरुरत है जो की उनके पास है ही नहीं, ऐसे में ये समझना जरुरी हो जाता है की यदि आपको अपने business ideas पर यकीन है की वो सफल हो सकता है और उससे आप अच्छा लाभ कम सकते है तो उसे स्टार्ट करने और आगे बढाने के लिए हर तरह का loan बैंक आपको देगा, बस जरुरी है यह जानना की आप बैंक को loan के लिए approach कैसे करे.

वैसे केंद्र और राज्य सरकारों के द्वारा SME Industries, महिला Entrepreneur, Young Entrepreneur और नए स्टार्ट-अप को promote करने के लिए कई योजनाये बनायी गई है जिसमे इन्हें capital subsidy, interest subsidy, tax exemption, Credit guarantee के साथ साथ कई तरह के रजिस्ट्रेशन फीस में भी छुट दी जाती है, ऐसे सभी govt scheme को अलग से डिटेल्स में बताऊंगा, यहाँ अभी मुख्य रूप से हमे ये समझना है की कोई भी नया इंटरप्रेन्योर अपने business loan के लिए बैंक को कैसे approach करे.

सबसे पहले आप अपने ideas के आधार पर अपना Complete Business Plan करे जिसमे हर बात को समझे की आपके business के लिए

  1. जमीन कितना लगेगा, जमीन आपके पास है, आप lease पर लेंगे या खरीदेंगे और इसके लिए कितना पैसा का जरुरत है
  2. Civil कंस्ट्रक्शन का प्लान क्या होगा और इसमें कितना पैसा लगेगा
  3. कौन कौन सा Machinary का जरुरत होगा, इसे आप किनसे खरीदेंगे और इसमें कितना पैसा लगेगा
  4. Raw-Materials कौन सा प्रयोग करेंगे, इसे आप किनसे खरीदेंगे और इसके लिए आपको कितना पैसा का जरुरत होगा
  5. आपको कितने Manpower की जरुरत होगी, इन्हें आप कहाँ से hire करेंगे और इनके लिए आपको कितने पैसो की जरुरत होगी
  6. Market Research करे और यह जाने की आने वाले 4-5 सालो में आपका Expected Production और sale के आधार पर कितना Profit/Loss होगा और अपने business का financial analysis करे
  7. existing players/market demand-supply/compitition को भी समझने का कोशिश करे
  8. आपके business को setup करने और चलाने के लिए कुल कितने पैसो की जरुरत है और इसमें आपका हिस्सा और बैंक का loan कितना होगा, साथ ही बैंक के loan को आप कितने दिनों में किस तरह से वापस कर सकते हो.

उपर्युक्त जानकारी के आधार पर अपने business का “प्रोजेक्ट रिपोर्ट” तैयार करे, क्यूंकि जब भी आप किसी बैंकर से business loan के लिए बात करने को जायेंगे तो सबसे पहले आपसे यही पूछा जायेगा की आप क्या करना चाहते हो और क्या आपने प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार किया है, इसलिए अपने business loan के लिए बैंक जाने से पहले अपना प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार रखे, प्रोजेक्ट रिपोर्ट आप खुद से या किसी expert से बनवा सकते है लेकिन जरुरी यह है की उसमे आपके business से सम्बंधित सभी जरुरी जानकारी दिया गया हो और उन सबका आपको complete knowledge हो जिससे की जब पहली बार आप बैंक से मिले तो आप उन्हें यह भरोसा दिला सके की आप इस business को करने के लायक है और इसमें आप सफल हो सकते है और बैंक यदि आपको loan देता है तो उनका पैसा safe है.

सामान्यतः बैंक जमीन के लिए loan नहीं देते है इसलिए ज्यादा बेहतर होगा की आप loan के लिए बैंक जाने से पहले जमीन फाइनल कर ले जहाँ आपको अपना business setup करना है, जो की आपका अपना खुद का हो सकता है, आप जमीन को खरीद सकते है या लीज पर भी ले सकते है, जिससे की यदि बैंक आपके site के बारे में जानना या देखना चाहे तो देख सकता है, ऐसा करने से बैंक ज्यादा संतुष्ट हो सकता है आपके प्रोजेक्ट को फाइनेंस करने के निर्णय को लेने में.

नए entrepreneur के साथ एक और समस्या आती है की बैंक को loan के against में देने के लिए collateral security जो की प्रॉपर्टी के रूप में देना होता है और साथ ही किसी ब्यक्ति के रूप में guarantor नहीं मिल पाने के कारण भी बैंक loan देने से मना कर सकते है क्यूंकि इनके अभाव में loan secure नहीं हो पा रहा है, नए enterpreneur को ऐसी ही समस्या से बचाने और उनके द्वारा लिए जाने वाले loan को secure करने के लिए केंद्र सरकार CGTMSE scheme के तहत ट्रस्ट चला रही है जिसमे आप 2 करोड़ तक के loan को बिना किसी collateral security दिए भी ले सकते है जिसके लिए बैंको को ऐसे loan के लिए केंद्र सरकार के द्वारा guarantee दिया जाता है जिसके लिए loan लेने वाले से 1% guarantee फीस के रूप में चार्ज किया जाता है, तो अगर आपके पास collateral security एवं guarantor नहीं है तो आप बैंको से CGTMSE Scheme में अपने प्रोजेक्ट को फाइनेंस करवा सकते है.

सामान्यतः हर जगह बैंको का SME Branch खोला गया है जो की small & medium एंटरप्राइज को सपोर्ट करने के लिए खोला जाता है, अतः यदि आपका प्रोजेक्ट कास्ट 1 करोड़ से कम है तो आप किसी भी बैंक ब्रांच के मेनेजर को loan के लिए approach कर सकते है और यदि आपका प्रोजेक्ट कास्ट 1 करोड़ से ज्यादा है तो बेहतर होगा आप SME Branch में जाए.

क्यूंकि आपको अपने idea पर भरोसा है, किसी बैंक को भरोसा हो न हो आप तबतक एक के बाद दुसरे बैंक से अपने प्रोजेक्ट फाइनेंस के लिए मिलते रहे जबतक कोई बैंक आपके loan को approve न कर दे, खुद पर भरोसा रखकर पक्का इरादा के साथ कोशिश करते रहे आप जरुर सफल होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.